NFC क्या है और यह कैसे काम करता है ? ( What Is NFC ? And how Does it Work In hindi)

आज लगभग सभी जानते है की NFC क्या है इसका पूरा नाम – ( Near Field Communication ) तो नाम से आप समझ ही गये होंगे की ऐसा communication जो आप किसी पास के Device से कर सके | यह आम तौर पर आज कल के मिड रेंज Mobile Phones में भी उपलब्ध होता है और Mobiles Phone Ratings को काफी हद तक NFC भी प्रभावित करता है अर्थात जिन phones में NFC features उपलब्ध नहीं होता उसे सामान्यत कम Rating दिया जाता है | तो आइये NFC क्या है “What Is NFC” और यह कम कैसे करता है इसके बारे में विस्तार से जानते है

NFC क्या है ? (What Is NFC ?)

थोडा तो आप समझ ही गये होंगे यह आपस में तो Device के बीच Communication generation का काम करता है यह इसलिए इतना Popular है क्योंकि यह Communication का बहोत ही Secure तरीका है और Payment करने के लिए ज्यादतर उपयोग में लाया जाता है इसकी रेंज 3-4 सेंटीमीटर तक होती है इसलिए जब भी आपको दो Device के बीच Communication करना है तो दोनों Device को एक दुसरे के बेहद नजदीक जाना होगा |

Near field communication

ये NFC Devices अलग अलग प्रकार के होते है इनमे Electromagnets का उपयोग किया जाता है इसलिए यह बहोत की कम पॉवर का Use करते है और कुछ को पॉवर की आवश्यकता नहीं होती है | इसके प्रकार की बातें हम आगे करेंगे उससे पहले हम देखते है की यह काम कैसे करता है |

यह काम कैसे करता है ? – How Does NFC Work

यह Radio frequency Waves पर काम करती है पर यह Wifi और Bluetoth से काफी अलग है Wifi और Bluetooth में आपको 2 Device को आपस में Pair करना होता है पर NFC में ऐसा नहीं होता इसमें केवल आपको दोनों Device को पास लाना होता है और दोनों Device में NFC को Enable करना होता है यह आपस में कनेक्ट हो जाते है |NFC एक प्रकार का चिप होता है जो आपके Mobile या किसी NFC Device में लगा होता है इसकी स्पीड 106 से 424kbps होती है | Mobile Phones में इसको Phone के Back Cover या Top पर लगाया जाता है |

और पढ़ें – Redmi भारत में कब Launch करेगी अपना नया फ़ोन K20/K20 Pro

NFC Device के प्रकार ( Types Of NFC Device) –

Device जिनमे NFC होता है या तो Active होते है या Passive आइये जानते है यह क्या होते है |

01. Active NFC Devices ( एक्टिव एनऍफ़सी डिवाइस ) – यह बिना पॉवर के काम नहीं करते इनमे data Send करने और Receive करने दोनों की क्षमता होती है | इसका सबसे अच्छा उदाहरण एक NFC Compatible Mobile Phone है जिसमे NFC का use करके हम Payment कर सकतें है या Payment Accept भी कर सकतें है | इसके अलावा भी बहोत सारे Device है जो Active NFC Based होते है जैसे – Payment Terminals, Card Readers आदि |अर्थात ये Towway Communication करने में सक्षम होते है |

Active NFC Device

02. Passive NFC Device (पैसिव एनऍफ़सी डिवाइस) – इनकी क्षमता सिमित होती है अर्थात यह केवल Information देने का काम कर सकतें है यह देता को Process नहीं कर सकतें Passive NFC Device में Power की आवश्यकता नहीं होती यह बहोत कम Information को store कर सकतें है उदा . – आपके डेबिट कार्ड के डिटेल्स जिनका उपयोग आप पेमेंट करने के लिए कर पाएंगे | इसका सबसे अच्छा उदाहरण NFC tags है |

NFC Passive tags

NFC टैग क्या है (what is NFC Tag)

यह एक चिप होता है जैसा की ऊपर के Picture में आप देख सकतें है इसमें आप बहोत छोटे मात्रा में data store कर सकतें है जैसे – debit Card Information, या कोई कमांड |इसके बाद अगर आपको इसको उपयोग करना है तो आपको इसे किसी Active NFc Device जैसे NFC Inbilted Phone के पास लाना होगा जिससे इसमें Store Command Execute हो जायेगा |

NFC TAG में कमांड या data store करने के लिए अपने Mobile फ़ोन का उपयोग कर सकतें है जिसमे NFC का Feature हो इसके लिए आपको अपने Phone में NFC Trigger नाम की Application को Install करना होगा |

एनऍफ़सी के मोड्स (Modes Of NFC)

Peer to Peer : इसमें दोनों Device Active NFC Device होते होते है दोनों में Sender और Receiver का गुण होता है एक्स.- Mobile
Read/Write:  इसमें data को केवल पढ़ा जा सकता है जैसे NFC Tags
Card Emulation : इसमें भी NFC का Use होता है जैसे Credit Card या Debit CArd में NFC चिप लगाना |

Conclusion

NFC Future में उपयोग होने वाला सबसे प्रचलित माध्यम होने वाला है धीरे धीरे लोग इसका प्रयोग करना शुरू कर रहे है क्योंकि यह एक सरल और सुरक्षित मध्यम है इससे आप अपने घर के वस्तुओ को कण्ट्रोल कर अपने घर को स्मार्ट घर बना सकतें है |

तो NFC की ये छोटी सी जानकारी आपको कैसी लगी अगर आपके मन में NFC को लेकर कोई सवाल है तो हमसे कमेंट के मध्यम से जरुर पूछे |

Exit mobile version